News Via District

<<-Back
You see in-> District : Bilaspur   
   Next Page ->>   

वादे के बाद भी नहीं रखा गया शिक्षाकर्मियों के बीएड/डीएड में सीट आरक्षित
हम वादों का झुनझुना लेकर बजाते ही रहे और शासन अपने कदम बढ़ाता चला गया । आज प्रीबीएड और प्रीडीएड के लिए भी सरकार ने विज्ञापन जारी कर दिया और उसमे शिक्षाकर्मियों के लिए कोई सीट आरक्षित नहीं रखा गया है जबकि ये उन 12 मुद्दों पे शामिल था जिसे सरकार ने पत्र लिखकर मंजूर होना और इस दिशा में करवाई होना बताया था । झुनझुना थामे रखो अभी और झटके मिलना तय है ।
VIVEK DUBEY , Mob : 9691345789 , Bilaspur , Sat, Apr 9, 2016.


दो से अधिक संतान वाले शिक्षाकर्मियों पर गिर रही है गाज
राज्य में अब उन शिक्षाकर्मियों पर कार्यवाही किया जा रहा जिनकी 2 से अधिक जीवित संतान है और 3 से संतान का जन्म 2001 के बाद हुआ है । इसी क्रम में धमतरी जिले के कई शिक्षाकर्मियों को सेवा समाप्ति पूर्व सूचनार्थ पत्र सौंप दिया गया है और 2 शिक्षाकर्मियों को बर्खास्त भी कर दिया गया है । यहाँ उन शिक्षाकर्मियों पर कार्रवाई हुई है जिनकी नियुक्ति पूर्व 2 से अधिक संतान रही हो और जिन्होंने इस तथ्य को जानबूझकर छिपाया हो साथ ही उन शिक्षाकर्मियों पर भी जिनकी तीसरी संतान नौकरी में आने के बाद हुई है।
VIVEK DUBEY , Mob : 9691345789 , Bilaspur , 06/03/16 14:18:39.


पति-पत्नी आधार पर भी होगा स्थानांतरण
इस वर्ष आपसी के साथ साथ पति-पत्नी ट्रान्सफर भी होगा इसके लिए आप जिस जिले में कार्यरत है वहां के जिला/जनपद पंचायत में आवेदन देना होगा जहां सामान्य प्रशासन समिति की बैठक में नाम पास होने पर आपके वांछित जिले में सहमति हेतु सूची भेजी जायेगी । वहां से सहमति मिल जाने पर की पद खाली है इसका स्थानांतरण किया जा सकता है आपका कार्यरत जिला पंचायत ट्रान्सफर आदेश निकालेगा ।यह पूरी प्रक्रिया 1 अप्रैल से लेकर 31 मई तक संपन्न होनी है ।
VIVEK DUBEY , Mob : 9691345789 , Bilaspur , Thu, Mar 3, 2016.


बिना डीएड नहीं होगा अब बीएड में प्रवेश , शिक्षाकर्मियों के लिए एक और संकट
पंडित सुन्दरलाल लाल शर्मा विश्वविद्यालय द्वारा Pre B.ED प्रवेश परीक्षा का दावा आपत्ति सूची जारी करते ही ये तय हो गया की नए नियमानुसार वे अभ्यर्थी जो डीएड पास नहीं है उन्हें बीएड में प्रवेश मिल ही नहीं सकता । अब सोचने वाली बात यह है की यदि किसी M.Sc /MA डिग्री धारी विद्यार्थी को या वर्ग 1 के शिक्षाकर्मी को बीएड डिग्री चाहिए तो वो डी एड करके अपना दो साल और पैसा बर्बाद क्यूँ करेगा जबकि डी एड की डिग्री उसके किसी काम की नहीं है । * केवल कक्षा 1 से 7 तक के बच्चों को पढ़ाने वाले शिक्षक की योग्यता हेतु आवश्यक है डी एड * ## कक्षा 8 से 12 तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने वाले शिक्षक को केवल बी एड की डिग्री की जरुरत होती है ## इस प्रकार नौकरीपेशा उन शिक्षाकर्मियों के लिए जो वर्ग 1 में है और जिनके पास बीएड की डिग्री नहीं है उनके लिए डिग्री प्राप्त करने के सभी रास्ते बंद हो गए है क्योंकि सुन्दरलाल शर्मा और ignou दोनों यूनिवर्सिटी में ये नियम लागू हो गया है।
VIVEK DUBEY , Mob : 9691345789 , Bilaspur , 29/02/16 17:03:20.


समयमान और क्रमोन्नत वेतनमान की पात्र सूची से सैकड़ों नाम गायब
बिलासपुर - जिला पंचायत द्वारा जारी किये गए समयमान और क्रमोन्नत वेतनमान के लिस्ट के सामने आते ही शिक्षाकर्मियों में हड़कंप मच गया है क्योंकि एक ओर जहाँ बिल्हा ब्लाक के 2007 तक नियुक्त हुए शिक्षाकर्मियों के नाम पात्र सूची में दर्ज है वही तखतपुर ब्लॉक के 1998 में नियुक्त हुए 3 शिक्षाकर्मियों के अलावा किसी का नाम सूची में दर्ज नहीं है । ऐसे ही बहुत से मामले अन्य विकासखंडों से भी सामने आ रहे है जहाँ पात्र उम्मीदवारों को लिस्ट में शामिल नहीं किया गया है । ऐसे सुनने में ये भी आ रहा है की बाबुओं ने ये सारा खेल लाभ के हकदार शिक्षाकर्मियों से पैसा वसूली के लिए खेला है । जिनके नाम छूट गए है अब वे बाबुओं से संपर्क करेंगे जिसके बाद अगली सूची में नाम शामिल कराने के एवज में बाबुओं को चढ़ावा मिलना तय हो जाएगा ।
VIVEK DUBEY , Mob : 9691345789 , Bilaspur , Thu, Feb 18, 2016.